प्रधानमंत्री मोदी ने ‘मन की बात’

लॉकडाउन से ज्यादा अनलॉक में सावधान रहने की जरूरत

कोरोना को हराना है और देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करना हमारा लक्ष्य

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कोविड-19 महामारी का फैलाव रोकने के लिए सावधान रहने की जरूरत पर जोर दिया। मोदी ने कहा, “अनलॉक की इस अवधि के दौरान प्रत्येक व्यक्ति को दो बिंदुओं पर ध्यान देना होगा- कोरोना को हराना है और देश की अर्थव्वस्था को मजबूत करना व सहारा देना है।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “अनलॉक की अवधि के दौरान हमें लॉकडाउन अवधि की तुलना में अधिक चौकन्ना रहना होगा और केवल सतर्कता ही आपको कोरोना से बचा सकता है।” प्रधानमंत्री ने चेताया, “अगर आप मास्क नहीं पहनेंगे, दो गज की सामाजिक दूरी के नियम का पालन नहीं करेंगे या अन्य सावधानियां नहीं बरतेंगे तो आप खुद के अलावा दूसरों को भी जोखिम में डालेंगे, खासकर घर में रह रहे बुजुर्गो और बच्चों को।”

उन्होंने कहा, “कुछ लोगों का कहना है कि 2020 शुभ नहीं है।

लोग सिर्फ यह चाहते हैं कि यह साल किसी तरह कट जाए। लेकिन ऐतिहासिक रूप से भारत हमेशा तरह-तरह की त्रासदियों और चुनौतियों में जीत सुनिश्चित करते हुए चमकता और सुदृढ़ रहा है।”

विश्व में कोविड-19 के मामलों की संख्या जहां एक करोड़ को पार कर गई है, वहीं भाारत में रविवार को संक्रमण के और 19,000 मामले सामने आए और इसके साथ कुल आंकड़ा बढ़कर 5,28,859 हो गया। भारत 2,03,051 सक्रिय मामलों, 16,095 मौतों और संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों के आकड़े 3,09,712 के साथ कोरोना से बुरी तरह प्रभावित 213देशों में चौथे स्थान पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here