बैठक में एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया भी शामिल होंगे।

दिल्ली में शनिवार को पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक कोरोना वायरस संक्रमण के 2,137 नए मामले सामने आए।

दिल्ली के उप- राज्यपाल, मुख्यमंत्री और एसडीएमए के सदस्यों के साथ अमित शाह की बैठक होगी।

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) में बढ़ते कोरोना (Corona) मामले को लेकर केंद्र सरकार (Central Government) सख्त हो गई है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Union Home Minister Amit Shah and Health Minister Dr. Harsh Vardhan) आज 14 जून (14 June) को सुबह 11 बजे (Morning 11 o’clock) दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal), दिल्ली के उपराज्यपाल अनिज बैजल (Lt. Governor Anij Baijal) और SDMA के सदस्यों के साथ राष्ट्रीय राजधानी में COVID-19 स्थिति की समीक्षा बैठक करेंगे।

यह बैठक दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर बुलाई गई है उम्मीद है कल दिल्ली में कोरोना पर कोई बड़ा फैसला हो सकता है। इस बैठक में एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया भी शामिल होंगे। दिल्ली में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है।शनिवार को 24 घंटे में दो हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं (More than two thousand cases have been reported in 24 hours on Saturday)

अमित शाह के कार्यालय की तरफ से ट्वीट किया गया, ‘गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के संदर्भ में स्थिति की समीक्षा के लिए दिल्ली के उप- राज्यपाल, मुख्यमंत्री और एसडीएमए के सदस्यों के साथ, 14 जून को सुबह 11 बजे बैठक करेंगे। एम्स के निदेशक और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस दौरान मौजूद रहेंगे।’

दिल्ली में कोविड-19 के 2,137 मामले सामने आए, संक्रमित की संख्या 36 हजार के पार

दिल्ली में एक ही दिन में शनिवार को सबसे अधिक कोरोना वायरस संक्रमण के 2,137 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही दिल्ली में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 36,824 हो गई। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के मुताबिक, शनिवार को दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) से 71 मरीजों की मौत हो गई, जिसके बाद मृतकों का आंकड़ा 1,214 तक पहुंच गया।

ऐसा पहली बार है जब दिल्ली में एक ही दिन में 2,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं। इससे पहले बृहस्पतिवार को 1,877 नए संक्रमित सामने आए थे। बुलेटिन के मुताबिक, मौत के 58 मामले नौ मई से छह जून के बीच के हैं लेकिन ये तीन दिन बाद ही घोषित किए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here