शोपिया । जम्मू-कश्मीर के शोपियां में शनिवार सुबह सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच चल रही मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने तीन आतंकियों को मार गिराए हैं। सुरक्षा बलों ने पिछले 24 घंटे में 6 आतंकियों को ढेर किया है। पिछले 24 घंटे में यह दूसरी मुठभेड़ है। शोपियां में आज तड़के ही सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई थी। ऑपरेशन फिलहाल जारी है। पुलिस और सुरक्षा बलों ने मोर्चा संभाला हुआ है।

मुठभेड़ को लेकर एक अधिकारी ने सूचना दी कि जब सुरक्षा बलों को इलाके में आतंकियों के छिपे होने की खुफिया जानकारी मिली, तो पुलिस, सेना और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने इलाके को घेर कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

इसी दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों की टीम पर फायरिंग शुरू की। जवाबी कार्रवाई करते हुए सेना ने भी मुंबतोड़ जवाब दिया। जिसमें तीन आतंकियों को ढेर किया गया है। हालांकि तीनों मारे गए आतंकियों की पहचान नहीं बताई गई है।

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शुक्रवार को मुठभेड़ में तीन आतंकवादी ढेर

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच शुक्रवार (17 जुलाई) को मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे और दो सुरक्षा कर्मी घायल हो गए थे। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया था कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने कुलगाम जिले के नगनाद इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था।

क्षेत्र में छिपे आतंकवादियों के सुरक्षा बलों पर गोलीबारी करने से अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। गोलीबारी का सुरक्षा बलों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए और दो सुरक्षा कर्मी घायल हो गए। उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान की जा रही है और उनके संगठन का पता लगाया जा रहा है।

जम्मू कश्मीर में पाकिस्तानी गोलाबारी में दंपति और बेटे की मौत

जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के समीप अग्रिम क्षेत्रों और रिहायशी स्थानों पर शुक्रवार को पाकस्तानी सैनिकों ने गोलाबारी की जिससे एक ही परिवार के तीन सदस्यों की जान चली गयी। भारतीय सेना ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ” शुक्रवार को रात नौ बजकर 20 मिनट पर पाकिस्तानी सेना ने बिना किसी उकसावे के पुंछ सेक्टर के गुलपुर सेक्टर में नियंत्रण रेखा के आसपास मोर्टार दागने लगी और संघर्ष विराम का उल्लंघन करने लगी। ”

अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने करमारा सेक्टर में नियंत्रण रेखा से सटे रिहायशी क्षेत्रों पर भी भारी गोलाबारी की। उनके अनुसार एक गोला करमाना गांव के एक मकान में आ फटा जिससे मोहम्मद रफीक (58), उनकी पत्नी राफिया बी (50) और बेटे इरफान (15) की मौके पर ही मौत हो गयी। कुछ मकान भी क्षतिग्रस्त हो गये और कुछ लोग घायल हो गये। अधिकारियों ने कहा, ” भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है।” खबर लिख जाने तक दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी और गोलाबारी जारी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here