उत्तराखंड में चार धाम के कपाट खुलने के बाद अबतक स्थानीय लोगों को दर्शन की इजाजत थी लेकिन अब सरकार ने राज्य के सभी श्रद्धालुओं के इस यात्रा और भगवान के दर्शन की मंजूरी दे दी. यही नहीं चार धाम से जुड़ी यात्रा के लिये प्रशासन ने दिशा-निर्देश भी जारी किये हैं

उत्तराखण्ड में स्थित चार धाम यात्रा आज से शुरू हो रही है. उत्तराखण्ड सरकार ने यात्रा शुरू करने का फ़ैसला किया है. हालांकि अभी ये यात्रा सिर्फ उत्तराखण्ड के लोगों के लिए शुरू की जा रही है. लॉकडाउन की वजह से धार्मिक संस्थान देशभर में बन्द थे. हालांकि केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट अपने नियत समय पर ही खुले लेकिन सिर्फ मंदिर समिति से जुड़े लोग ही कपाट खुलने के वक्त मौजूद रहे.

अनलॉक 1 में 8 जून से जब गृह मंत्रालय ने धार्मिक संस्थान खोलने की अनुमति दी तब भी चार धाम यात्रा शुरू नहीं की गई. उत्तराखण्ड सरकार ने सिर्फ संबंधित मंदिर से सटे इलाक़ों के लोगों को ही दर्शन करने की अनुमति दी थी. अब दायरा बढ़ाते हुए चार धाम यात्रा उत्तराखंड के लोगों के लिए शुरू हो गई है. उत्तराखंड सरकार के ताज़ा आदेश के मुताबिक़ आज से उत्तराखंड के सभी ज़िलों के लोग चार धाम यात्रा कर सकते हैं. मंदिर सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक ही खुलेंगे.

सोशल डिस्टेंसिंग के सभी नियमों का पालन मंदिर प्रशासन को करना होगा. बद्रीनाथ धाम सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक और शाम 3 बजे से शाम 7 बजे तक खुलेगा. एक वक्त में 1200 लोगों को धाम जाने की अनुमति दी जाएगी. कोई भी यात्री एक रात से ज़्यादा धाम में नहीं रुक सकता. अगर कहीं भूस्खलन जैसी घटना होती है, उस परिस्थिति में यह नियम लागू नहीं होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here