टीकमगढ़ : जिले में फिर दो कोरोना पॉजिटिव मिले है। इंदौर से आई सगी दो बहनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से शहर में हड़कंप मच गया। वहीं प्रशासन ने तत्काल ही शहर में कर्फ्यू लगा दिया। इससे दुकानों सहित आवाजाही पूर्णत बंद रही।

साथ ही दो बहनों के संपर्क में आए करीब 16 लोगों को स्वास्थ्य टीम ने घरों से उठाकर क्वारंटाइन सेंटरों में क्वारंटाइन कर दिया। इसके अलावा इनके सैंपल लेने की तैयारी की है। दो सगी बहनों के निवास स्थल के समीप बैरिकेड्स लगने के बाद लोग घरों की खिड़कियों से ही झांकते हुए नजर आए।

गौरतलब है कि शहर के नायकों के मोहल्ला में रहने वाले एक परिवार की दो सगी बहनें 13 मई को ई-पास बनवाकर पर्सनल कार से इंदौर से टीकमगढ़ आईं थीं।

इंदौर के राजा बाग के पास रहने वाली यह दो बहनें पढ़ाई करतीं थीं। कार में एक युवती पलेरा की भी साथ आई थी।

टीकमगढ़ आने के बाद प्रशासन ने होम आईसोलेट कर दिया था। इसके बाद 14 मई को जांच के लिए सैंपल बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज सागर की लैब में भेजा था, जहां से 15 मई की देर रात करीब 12 बजे रिपोर्ट पॉजिटिव आने की सूचना प्रशासन को दी गई। इस सूचना को पाते ही प्रशासन दो बहनों के घर पहुंचा और उन्हें तत्काल ही झिरकी बगिया स्थित आयुष औषधालय की नई बिल्डिंग में बने क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया।

बर्तन धोने वाली महिला को भी क्वारंटाइन कराया

इस घर में बर्तन धोने के लिए पुरानी टेहरी की रहने वाली एक महिला जाती थी। पूछताछ के बाद प्रशासन ने इस महिला को कुंडेश्वर स्थित छात्रावास में आईसोलेट करा दिया। वहीं ई-पास के माध्यम से पर्सनल कार से आने पर ड्राइवर को भी पुलिस ने खोजा। ड्राइवर को आईसोलेट कराते हुए जांच के लिए सैंपल भेज दिया गया। दो बहनों के 8 परिजन और करीब 8 अन्य संपर्क में आए हुए लोगों को कुंडेश्वर के छात्रावास में क्वारंटाइन किया गया है, जिनके सैंपल भी लिए जा रहे हैं।

दो बहनों में दिख रहे लक्षण

कोरोना पॉजिटिव निकली दो बहनों में लक्षण भी दिख रहे हैं। सीएमएचओ डॉ. एमके प्रजापति ने बताया कि हल्के लक्षण प्रदर्शित हो रहे हैं। इससे एहतियात के तौर पर तत्काल ही क्वारंटाइन कर दिया है। शासन के निर्देशों के अनुसार ही अब कार्य किया जा रहा है। फिलहाल संपर्क में आए हुए लोगों की सूची बनाकर उनके सैंपल भेजने की तैयारी की जा रही है। सर्दी, जुकाम, बुखार सहित अन्य हल्के लक्षण दोनों पॉजिटिव में प्रदर्शित हो रहे हैं।

प्रशासन ने लगाया शहर में कर्फ्यू

शहर में दो कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद अब दुकानों को बंद रखने का आदेश जारी किया गया। दो गलियों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया। नगरपालिका क्षेत्र टीकमगढ़ के वार्ड क्रमांक 3 में प्रकाश भटनागर के मकान से रोड रोज स्कूल तक और मनीष सोनी के मकान से किशोरी जड़िया के मकान तक के एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। कोरोना बीमारी का संकमण तेजी से फैलता है। वहीं वार्ड क्रमांक 3 से लगे हुए पुरानी टेहरी मोहल्ला को बफर जोन घोषित कर दिया है।

घर-घर पहुंचेगा दूध, खाद्यान

कंटेनमेंट जोन में कोई दुकानें नहीं खुलेगीं और लोगों को आगामी आदेश तक घरों के बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। पुलिस और प्रशासन ने बैरिकेड्स लगाकर गलियां पूरी तरह से सील कर दी हैं। ऐसे में अब इस पूरे कंटेनमेंट जोन में घर-घर खाद्यान्न, दूध, पेयजल, आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जाएगा। इसके लिए सीएमओ हरिहर गंधर्व नगर पालिका टीकमगढ़ को नोडल अधिकारी बनाया गया, जबकि इसका मार्गदर्शन जिपं सीईओ हर्षल पंचोली करेंगे।

सुबह से ही दौड़ी टीमें, स्क्रीनिंग हुई

स्वास्थ्य विभाग की टीमें सुबह से ही इन गलियों में दौड़ने लगी थी। पीपीई किट पहनकर स्वास्थ्य टीम ने घर-घर जाकर स्क्रीनिंग की। इस दौरान गलियों में तो कोई संदिग्ध नहीं मिला। अब कंटेनमेंट जोन और बफर जोन में दोबारा भी मेडिकल टीम द्वारा स्क्रीनिंग कराई जाएगी। साथ ही कुछ सैंपल भी लिए जाएंगे। इस दौरान टीम में करीब 20 से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मी तैनात थे।

सड़कों पर पसर गया सन्नाटा

जिले में कोरोना पॉजिटिव का पहला केस 14 अप्रैल को सामने आया था। जो इंदौर आया हुआ था। इसके बाद दूसरा पॉजिटिव भी इंदौर से आया था। तीसरा कोरोना पॉजिटिव देवास से आया। तीनों कोरोना पॉजिटिव युवक स्वस्थ्य होने के बाद घर की ओर लौट गए हैं। प्रशासन ने उन्हें डिस्चार्ज कर दिया।

अब फिर दो कोरोना पॉजिटिव इंदौर से आईं हुईं युवतियां मिल गईं। इससे शहर के लोगों में हड़कंप मच गया। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ था। कोरोना पॉजिटिव केस न होने के चलते प्रशासन ने सुबह 7 से दोपहर 2 बजे तक बाजार खोलने का आदेश दे दिया था, जिससे आमजन खरीदी भी कर पा रहे थे। लेकिन अब यह बाजार भी बंद हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here