कोरोना महामारी ने सभी चीजों पर ब्रेक लगा दिया है. नौकरी से लेकर बच्चों की पढाई तक, हर चीज की रफ्तार थम गई है. स्कूल-कॉलेज पिछले कुछ महीनों से बंद पड़े हैं बच्चे ऑनलाइन क्लास के माध्यम से पढ़ाई कर रहे हैं. इस बीच बताया जा रहा है कि सरकार सितंबर से स्कूल खोलने पर विचार कर रही है. हालांकि इस बारे में कोई फैसला अभी तक नहीं लिया गया है. लेकिन इसमें सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि अगर कोरोना संकट के बीच सितंबर से स्कूल खोले गए तो क्या अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भजने के लिए राजी होंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो कई ज्यादातर अभिभावक कोरोना संकट में बच्चों की ऑनलाइन क्लास से खुश हैं क्योंकि इसमें बच्चे की पढ़ाई भी हो रही है वह कोरोना से भी सुरक्षित है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो गाइडलाइन जारी होने के बाद स्कूलों को खोलने का फैसला राज्यों पर छोड़ दिया जाएगा.

क्या है कोरोना की स्थिति

बताया जा रहा है कि देश में कोरोना के बढ़ते मामले सभी के लिए चिंता का विषय बन गए हैं. पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना के 64 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं जबकि 1000 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में देश में 64 हजार, 531 नए मामले सामने आए जबकि 1 हजार 92 लोगों की मौत हो गई. इसी के साथ देश में कुल मामलों की संख्या 27 लाख 67 हजार 274 पहुंच गई है. इसमें 6 लाख 76 हजार 515 कोरोना के एक्टिव मामले हैं जबकि 20 लाख 27 हजार 871 लोग ठीक हो चुके हैं. वहीं अब तक कुल 52 हजार 889 लोगों की मौत हो गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here