नई दिल्लीः भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि अपने एकल खिड़की समाधान एप, ‘योनो कृषि’, के माध्यम से किसान क्रेडिट कार्ड पर कर्ज की सीमा को संशोधित करवाने की सुविधा दी है जिसके लिए किसानों को बैंक की शाखा में नहीं जाना होगा। स्टेट बैंक ने एक विज्ञप्ति में कहा कि योनो कृषि पर केसीसी समीक्षा विकल्प के साथ, किसानों को अब अपने केसीसी में संशोधन करने के लिए बैंक की शाखा तक जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

बैंक ने कहा कि केसीसी का समीक्षा विकल्प किसानों को बिना किसी कागजी कार्रवाई के केवल चार क्लिक में अपने घर के आराम से आवेदन करने में मदद करेगा।

ऋणदाता ने कहा कि चूंकि सभी किसानों के पास स्मार्टफोन तक पहुंच नहीं है, इसलिए इसने अपनी शाखाओं में केसीसी समीक्षा प्रक्रिया को भी सुव्यवस्थित किया है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि योको कृषि पर केसीसी की समीक्षा से 75 लाख से अधिक किसानों को लाभ होने की उम्मीद है, जिनके पास एसबीआई में केसीसी खाते हैं।

एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा, ”यह नई सुविधा हमारे किसान सुविधा और सुरक्षा को ध्यान में रखकर जोड़ा गया है जो हमारे बहुमूल्य ग्राहक हैं। हमें विश्वास है कि अब वे अपने केसीसी सीमा संशोधन के लिए परेशानी मुक्त आवेदन प्रक्रिया का अनुभव करेंगे।” योनो कृषि से 10 से अधिक स्थानीय भाषाओं में सम्पर्क किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here