रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन का भारत दौरा इस साल के अंत में हो सकता है. खबर है कि पुतिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से दिए गए भारत दौरे के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है. मंगलवार को राजनाथ सिंह ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के न्योते पर इस साल के अंत तक रूस के राष्ट्रपति भारत आ सकते हैं.

[Russian President Vladimir Putin may visit India later this year. It is reported that Putin has accepted the invitation to visit India given by Prime Minister Narendra Modi. On Tuesday, Rajnath Singh said that by the end of this year, the President of Russia can visit India at the invitation of Prime Minister Narendra Modi.]

आपको बता दें कि राजनाथ सिंह रूस के तीन दिवसीय दौरे पर मॉस्को में हैं. उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस संकट के वक्त में ये किसी भारतीय प्रतिनिधिमंडल का मॉस्को का पहला दौरा है, ऐसे में ये दोनों देशों के मज़बूत संबंधों की तरफ इशारा करता है. मैं वर्ल्ड वॉर 2 के दौरान मारे गए रूस के सैनिकों को श्रद्धांजलि देता हूं, भारत के भी लाखों सैनिकों ने इस विश्व युद्ध में हिस्सा लिया था, जिसमें हमारे जवान भी शहीद हुए थे.

[Let us tell you that Rajnath Singh is in Moscow on a three-day tour of Russia. He said that this is the first visit of an Indian delegation to Moscow in the time of Coronavirus crisis, in such a way it indicates the strong relationship between the two countries. I pay tribute to the soldiers of Russia who died during World War 2, millions of soldiers from India also took part in this world war, in which our soldiers were also martyred.]

इस दौरान उन्होंने कहा कि उन्हें रूसी नेतृत्व की तरफ से आश्वासन दिया गया है कि Covid-19 संकट के प्रभाव के बावजूद सैन्य आपूर्ति के चल रहे सभी कॉन्ट्रैक्ट बिना किसी रुकावट के आगे बढ़ेंगे और तेजी से पूरे होंगे.

[During this time he said that he has been assured by the Russian leadership that despite the impact of the Covid-19 crisis, all the ongoing contracts of military supply will proceed without any interruption and will be completed quickly.]

रक्षा मंत्री ने कहा, “हमारी चर्चा काफी पॉजिटिव रही है. मुझे आश्वसत किया गया है कि ऑनगोइंग कॉन्ट्रैक्ट्स को मेंटेन किया जाएगा बल्कि और तेजी से कम समय मे पूरा किया जाएगा. हमारे साभी प्रोपोजल्स को रशियन साइड से पॉजिटिव रिस्पांस मिला है.

[The defense minister said, “Our discussion has been very positive. I have been assured that the ongoing contracts will be maintained rather quickly and completed in a short time. All our proposals have received positive response from the Russian side.”]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here