कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। वाराणसी के बुनकरों की तंगहाली पर केंद्र तथा राज्य सरकार पर निशाना साधा। प्रियंका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा सीएम योगी आदित्यनाथ से हवा-हवाई बातें नहीं, बल्कि ठोस आर्थिक पैकेज देने की अपील की।

प्रियंका ने ट्विट कर कहा, ‘यूपी सीएम ने पीएम साहब को बुलाकर एक आयोजन कर बताया कि छोटे और मझोले उद्योगों में लाखों रोजगार मिल रहे हैं। लेकिन हकीकत देखिए। पीएम के संसदीय क्षेत्र के बुनकर जो वाराणसी की शान हैं, आज गहने और घर गिरवी रखकर गुजारा करने को मजबूर हैं।’

उन्होंने आगे कहा, ‘लॉकडाउन के दौरान उनका पूरा काम ठप हो गया।

छोटे व्यवसायियों और कारीगरों की हालत बहुत खराब है। हवाई प्रचार नहीं, आर्थिक मदद का ठोस पैकेज ही इन्हें इस तंगहाली से निकाल सकता है।’

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बुनकरों की हालत बदहाल है। कभी बुनकर यहां की शान थे मगर बीते कुछ महीनों से हालत और बुरी हो गई है। फिर कोरोना वायरस और लॉकडाउन ने इनकी कमर तोड़ दी।

इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था कि रोजगार को लेकर अभी यूपी सरकार के आयोजन में खूब घोषणाएं हुईं लेकिन उसकी असलियत खुद आप श्रमिकों से सुन लीजिए। यूपी में कोई काम नहीं है इसीलिए सबको फिर वापस जाना पड़ रहा है। आकंड़ों के अनुसार यूपी से लगभग 1.5 लाख लोग तो अभी मुंबई वापस जा चुके हैं। यूपी सरकार ने एक आयोजन के ज़रिए यूपी में फैली भयंकर बेरोजगारी को ढँकने की कोशिश की लेकिन जमीनी सच्चाई को विज्ञापनों से कब तक छुपाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here