कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए अब देश में फिर से लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। इस बात के संकेत खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के दूसरे दिन दे दिए।(There will no longer be a lockdown in the country to prevent corona virus infection. Indications for this were given by Prime Minister Narendra Modi himself on the second day of the meeting with the Chief Ministers of the states). पीएम ने कहा कि लॉकडाउन के दबाव को मन से बाहर निकालना है और अब हमें अनलॉक के फेज ही ढूंढ़ना है, उसी दिशा में कदम आगे बढ़ाना है। (The PM said that the pressure of lockdown has to be removed from the mind and now we have to find the phase of unlock, we have to move forward in the same direction). अब राज्यों को यह निर्णय लेना है कि अनलॉक फेज 2 कैसा हो। अब प्रतिबंध कम हो, गतिविधियां बढ़े, राज्य निर्माण एवं अधोसंरचना विकास को प्राथमिकता दें। (Now states have to decide what should be unlocked phase 2. Now the restrictions should be reduced, activities should increase, state construction and infrastructure development should be given priority).

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कोरोना के संक्रमण की रोकथाम की कोशिशों के बीच जहाँ भी संभव हो हमें आर्थिक गतिविधियों को तेज करना है। (Prime Minister Narendra Modi said that we have to intensify economic activities wherever possible amidst efforts to prevent corona infection).यह खुशी की बात है कि हर राज्य आर्थिक विकास की गतिविधियों को तेजी देने का प्रयास कर रहा है। (It is a matter of happiness that every state is trying to accelerate the activities of economic development).

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सब मिलकर कोरोना को हराने एवं भारतीयों का जीवन बचाने के लिए प्रतिबद्ध है तथा निरंतर प्रयासरत है।(The Prime Minister said that together we are committed to defeating Corona and saving the lives of Indians and are constantly striving). हमने कोरोना के हालात पर नियंत्रण पाया है। लॉकडाउन के दौरान भारत की जनता ने अनोखा अनुशासन दिखाया है।(We have controlled the situation in Corona. During the lockdown, the people of India have shown unique discipline). स्वास्थ्य अधोसंरचना को बढ़ाना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होना चाहिए। हमें टेलीमेडिसन पर जोर देना होगा। कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में यंग वॉलिंटेयर्स तैयार करने होंगे।(Enhancing health infrastructure should be our top priority. We must insist on telemedicine. Prepare young volunteers in the fight against Corona). हमें लोगों को सचेत रखना होगा और जागरूकता बरतनी होगी। (We have to keep people alert and awareness must be taken).

पीएम मोदी से साथ वीडियो कांफेंसिंग में शामिल हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक कि बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की की गति पूरे देश की तुलना में आधी से भी कम है।(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan, who was involved in video conferencing with PM Modi, said that the rate of corona infection in the state is less than half of that of the entire country). मध्यप्रदेश की कोरोना संक्रमण ग्रोथ रेट 1.7 प्रतिशत है, वहीं भारत की 3.8 प्रतिशत है। मध्यप्रदेश की डबलिंग रेट 41.1 दिन है जबकि भारत की 19.4 दिन है।(The corona infection growth rate of Madhya Pradesh is 1.7 percent, while that of India is 3.8 percent. Madhya Pradesh’s dabbling rate is 41.1 days while India’s is 19.4 days). वहीं प्रदेश में रिकवरी रेट में आज 73.6 प्रतिशत हो गई है। भारत में कोरोना रिकवरी रेट 52.5 प्रतिशत है।(At the same time, the recovery rate in the state has been increased to 73.6 percent today. Corona recovery rate in India is 52.5 percent).

अनलॉक के बाद कम हुई ग्रोथ रेट (Reduced growth rate after unlock)

मध्यप्रदेश में अनलॉक-01 के बाद कोरोना की वृद्धि दर में कमी आयी है। 30 मई को मध्यप्रदेश में कोरोना की वृद्धि दर 3.01 प्रतिशत थी जो 16 जून को घटकर 1.7 प्रतिशत रह गई।(The growth rate of corona has decreased after unlock-01 in Madhya Pradesh. On May 30, the growth rate of Corona in Madhya Pradesh was 3.01 percent, which decreased to 1.7 percent on June 16). गत 12 मई को मध्यप्रदेश में कोरोना की वृद्धि दर 3.9 प्रतिशत थी। मध्यप्रदेश के अधिक संक्रमण वाले शहरों इंदौर, भोपाल तथा उज्जैन में कोरोना की ग्रोथ रेट में निरंतर कमी आ रही है।(On May 12, the growth rate of corona in Madhya Pradesh was 3.9 percent. There is a continuous decrease in growth rate of corona in Madhya Pradesh’s most transitional cities, Indore, Bhopal and Ujjain). इंदौर की डबलिंग रेट 73.9 दिन, भोपाल की डबलिंग रेट 25 दिन तथा उज्जैन की 49.8 दिन रह गई है।(Indore’s dabbling rate is 73.9 days, Bhopal’s dabbling rate is 25 days and Ujjain’s 49.8 days).

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here