भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बाद सरकार ने नई गाइडलाइन लागू कर दी है, सरकार ने पहले से दी गई छूट को खत्म करते लोगों के एक साथ एकत्र होने पर रोक लगाने के लिए कई फैसले लिए है।

कोरोना समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए उत्सवों पर सार्वजनिक झाकियां नहीं लगाई जाएंगी। धार्मिक स्थलों, उपासना स्थलों पर एक बार में 5 से अधिक व्यक्ति इकट्ठे नहीं होंगे। शादी, सगाई आदि में दोनों पक्षों के 10-10 व्यक्ति से अधिक सम्मिलित नहीं होंगे। जन्मदिन आदि उत्सवों में 10 से अधिक व्यक्ति शामिल नहीं होंगे।

घर में ही मनाएं त्यौहार : मुख्यमंत्री ने कोरोना को देखते हुए लोगों से अपील कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए घर पर ही आगामी त्यौहार मनाएं। देव प्रतिमा घर पर ही स्थापित कर पूजा-अर्चना करें। सार्वजनिक स्थलों पर प्रतिमा स्थापित करने, त्योहार मनाने की अनुमति नहीं होगी।

संक्रमित कॉलोनी, मोहल्लों में करे लॉकडाउन : कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद तय किया गया कि कोरोना के हॉट स्पॉट वाली कॉलोनी और मोहल्लों में प्रशासन लॉकडाउन करे। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि जिला आपदा प्रबंधन समूह के निर्णय अनुसार जिन कॉलोनी, मोहल्लों में अधिक प्रकरण आ रहे है, वहां लॉकडाउन किया जा सकता है।

जनरल लॉकडाउन ना किया जाए : जनरल लॉकडाउन सप्ताह में एक ही दिन रहे। बैठक में जबलपुर जिले की समीक्षा में पाया गया कि पिछले एक हफ्ते में वहां संक्रमण बढ़े हैं।

बैतूल में किल कोरोना अभियान में कोई पॉजीटिव नहीं : बैतूल जिले की समीक्षा में पाया गया कि वहाँ किल कोरोना अभियान के अंतर्गत 1051 व्यक्तियों के कोरोना टेस्ट किए गए, जिनमें कोई भी पॉजिटिव नहीं निकला। वहां अभी 48 एक्टिव मरीज हैं तथा 70 स्वस्थ होकर घर चले गए हैं। मृत्यु दर शून्य है।

संभागायुक्तों से की समीक्षा : मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी संभागायुक्तों के साथ कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। सभी ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि उनके जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट समूह की बैठकों में यह सुझाव आया है कि आगामी त्यौहार सार्वजनिक रूप से मनाए जाने से संक्रमण फैलने का खतरा है, अत: त्यौहार घर पर ही मनाए जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here