नई दिल्ली: अगर आप पूरे देश में अनलॉक की प्रक्रिया से थोड़ी राहत महसूस कर रहे हैं तो सतर्क हो जाइए. देश के कई शहरों में एक बार फिर लॉकडाउन लागू किया जा सकता है. देश में जहां कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 8.5 लाख के करीब पहुंच गए हैं वहीं आने वाले दिनों में बेंगलुरु और पुणे समेत कई शहरों के अधिकारी अलग-अलग अवधियों के लिए लॉकडाउन पुन: लागू करने की तैयारी कर रहे हैं. उधर राजधानी दिल्ली में स्थिति में कुछ सुधार दिखाई दिया है.

उत्तर प्रदेश सरकार ने सप्ताहांतों में शनिवार, रविवार को पूरे राज्य में कड़ी पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है.

इससे पहले कर्नाटक और तमिलनाडु ने रविवार का लॉकडाउन लगा रखा है. असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और बिहार जैसे राज्यों ने अलग-अलग अवधियों में क्षेत्रवार लॉकडाउन की घोषणा की है.

कर्नाटक सरकार ने बेंगलुरु में 14 जुलाई से सात दिन के लिए पूरी तरह लॉकडाउन का ऐलान किया है. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने मदुरै और आसपास के क्षेत्रों में पाबंदियां 14 जुलाई तक बढ़ा दी हैं.

महाराष्ट्र सरकार ने पहले ही पुणे और पिंपरी-चिंचवाड़ में 13 से 23 जुलाई तक व्यापक लॉकडाउन की घोषणा की थी. राज्य सरकार ने मुंबई के आसपास के क्षेत्रों में भी इसी तरह बंद की घोषणा की थी.

कश्मीर में भी अधिकारियों ने रविवार को लॉकडाउन के एक और चरण के सख्ती से क्रियान्वयन की शुरूआत की तथा ऐतिहासिक लाल चौक को पूरी तरह बंद कर दिया. श्रीनगर के 67 अन्य क्षेत्रों को भी बंद कर दिया गया है जिन्हें पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 के मामले अचानक से बढ़ने के बाद निषिद्ध क्षेत्र घोषित किया गया है.

हालांकि दिल्ली में खबरें कुछ सकारात्मक हैं जहां रविवार को कोविड-19 के मामलों की संख्या लगातार दूसरे दिन 2,000 से कम रही. महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 7,827 नए मामले सामने आए, जिसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,54,427 तक पहुंच गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here