नई दिल्ली: एक तरफ जहां भारत और नेपाल के बीच सीमा विवाद गहराता जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ चीन के साथ भी सीमा विवाद बढ़ता जा रहा है.(On the one hand, while the border dispute between India and Nepal is deepening, on the other hand the border dispute with China is also increasing). अभी तक जहां आतंक को पनाह देने वाले पाकिस्तान से ही भारत की तनातनी थी. वहीं अब पाकिस्तान के साथ-साथ नेपाल और चीन के साथ भी हालात तनावपूर्ण हैं.(Till now, India had a tussle with Pakistan that shelters terror. Now the situation is tense with Pakistan as well as Nepal and China) बीते मंगलवार को खबर आई कि गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प हुई, जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए.(On Tuesday, news came that violent clashes between India and China took place in the Galvan Valley, in which 20 Indian soldiers were martyred).

सोमवार रात हुई थी भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प (Clash between Indian and Chinese soldiers took place on Monday night)

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत और चीन के सैनिकों के बीच गलवान घाटी में सोमवार 15 जून को हिसंक झड़प हुई थी.(For your information, let us know that there was a skirmish between the soldiers of India and China in the Galvan Valley on Monday 15 June). मंगलवार को खबर आई कि चीन के साथ हिसंक झड़प में एक कर्नल समेत भारत के कुल तीन जवान शहीद हो गए. लेकिन रात होते-होते सेना ने अपने आधिकारिक बयान में बताया कि चीन के साथ झड़प में भारत के कुल 20 जवान शहीद हुए हैं.(On Tuesday, news came that a total of three Indian soldiers, including a colonel, were killed in a violent clash with China. But by night, the army said in its official statement that a total of 20 soldiers of India were martyred in the clash with China). वहीं नेपाल के भी 43 जवानों के हताहत होने की खबर सामने आई.(On the other hand, Nepal also reported the casualties of 43 soldiers).

भारत और नेपाल के बीच भी चल रहा है तनाव (There is also ongoing tension between India and Nepal)

पिछले हफ्ते बिहार से लगी सीमा से भारत और नेपाल के बीच तनाव की खबर सामने आई थी.(Last week, there was news of tension between India and Nepal from the border with Bihar). दरअसल, बिहार के सोनबरसा बॉर्डर में भारत और नेपाल सीमा पर नेपाल पुलिस की ओर से फायरिंग की गई थी.(Actually, firing was done by Nepal Police on the Indo-Nepal border in Sonbarsa border of Bihar). इस फायरिंग में चार भारतीय को गोली लगी थी, जिसमें एक शख्स की मौत भी हो गई थी. इस घटना के बाद से ही भारत-नेपाल सीमा पर तनाव की स्थिति बनी हुई है.(Four Indians were shot in this firing, in which one person was also killed. Since this incident, there has been a situation of tension on the Indo-Nepal border). हालांकि, ये मामला सीमा विवाद का नहीं था, लेकिन सीमावर्ती इलाके में लोग डरे हुए हैं.(However, this was not a matter of border dispute, but people are scared in the border area).

इस कारण नेपाल के साथ हुआ था तनाव (This caused tension with Nepal)

गौरतलब है कि नेपाल ने भारत द्वारा उत्तराखंड के अपने क्षेत्र में किए गए निर्माण कार्य पर आपत्ति दर्ज की थी.(Significantly, Nepal had objected to the construction work done by India in its area of Uttarakhand). इसके बाद नेपाल ने अपनी संसद में एक नया नक्शा जारी किया, जिसमें भारत के लगभग 394 वर्ग किमी के भूभाग को अपना हिस्सा बताया.(After this, Nepal released a new map in its Parliament, in which about 394 sq km of the territory of India was declared its share). हालांकि, भारत ने नेपाल के इस नए नक्शे को उसी वक्त खारिज कर दिया था.(However, India rejected this new map of Nepal at the same time).

गलत वक्त पर हुआ चीन के साथ विवाद (Dispute with China at wrong time)

कई रक्षा विशेषज्ञों का मानना है कि गलवान घाटी में चीन के साथ सीमा विवाद गलत वक्त पर हुआ है. इस घटना के बाद अब नेपाल जैसा छोटा सा देश भी भारत को आंख दिखा सकता है.(Many defense experts believe that the border dispute with China in the Galvan Valley occurred at the wrong time. After this incident, now even a small country like Nepal can show India its eyes). हालांकि, नेपाल कभी नहीं चाहेगा कि उसका भारत के साथ उसके रिश्ते खराब हो, क्योंकि वो जानता है कि अगर ऐसे हालात पैदा होते हैं उसके लिए मुश्किल हालात पैदा होंगे.(However, Nepal will never want her relationship with India to deteriorate, because she knows that if such situations arise, difficult situations will arise for her).

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here