• भारत के खिलाफ चीन के रवैये की आलोचना
  • गलत विदेश नीति का फायदा उठा रहे चीन-रूस

एशिया के कई पड़ोसी देशों के साथ चीन के आक्रामक रवैये के लिए हिलेरी क्लिंटन ने ट्रंप प्रशासन को दोषी ठहराया है. अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि ट्रंप प्रशासन की गलत विदेश नीतियों के कारण चीन आज अपने पड़ोसी देशों के साथ आक्रामक रवैया अख्तियार कर रहा है. क्लिंटन ने इसमें भारत को भी शिकार बताया.

साल 2016 का राष्ट्रपति चुनाव हार चुकीं क्लिंटन ने दावा किया कि रूस और चीन ट्रंप प्रशासन की कमजोर विदेश नीति का गलत फायदा उठा रहे हैं. हालांकि, ट्रंप प्रशासन का कहना है कि उसने चीन के खिलाफ जितनी सख्ती दिखाई है, इससे पहले किसी प्रशासन ने ऐसा नहीं किया.

हिलेरी क्लिंटन के हवाले से समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने कहा, दुनिया में ट्रंप प्रशासन ने जो अव्यवस्था फैलाई है उसे आसानी से देखा जा सकता है.

उधर चीन उइगरों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है, दूसरे देशों का सर्विलांस कर रहा है, दक्षिण चीन सागर में धौंस जमाने की कोशिश कर रहा है और भारत के साथ सीमा पर विवाद पैदा कर रहा है.

बता दें, 5 मई के बाद से भारत और चीन की सेनाएं वास्तविक नियंत्रण रेखा पर एक दूसरे के सामने हैं. पिछले महीने 15 जून को स्थिति काफी गंभीर हो गई और दोनों देशों की सेनाओं में हिंसक झड़प हुई जिसमें भारत के 20 जवानों की जान चली गई. इसके अलावा चीन दक्षिण चीन सागर और पूर्वी चीन सागर में भी कई देशों के साथ उलझा हुआ है. चीन पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा जताता है. इसके खिलाफ वियतनाम, फिलीपिंस, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान ने आवाज उठाई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here