वैश्विक बाजारों में गिरावट के कारण आज भारतीय बाजारों में भी सोने और चांदी की कीमतें गिर गईं। एमसीएक्स पर अक्तूबर का सोना वायदा 0.63 फीसदी गिरकर 54,600 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। पिछले तीन दिनों में यह सोने की दूसरी गिरावट है। चांदी की बात करें, तो एमसीएक्स पर चांदी वायदा 1 फीसदी गिरकर 74,700 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई।

पिछले सत्र में सोने की कीमतें 0.35 फीसदी बढ़ी थीं जबकि चांदी 2 फीसदी यानी करीब 1,500 रुपये प्रति किलोग्राम उछली थी। शुक्रवार को सोना करीब 1,000 रुपये प्रति 10 ग्राम फिसला था। पिछले हफ्ते, वैश्विक स्तर पर तेजी के कारण भारतीय बाजारों में सोना 56,191 रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था।

वैश्विक बाजारों में इतनी रही कीमत वैश्विक बाजारों में आज मजबूत डॉलर के कारण सोने की कीमतों में गिरावट आई। निवेशकों ने अमेरिका में राजकोषीय प्रोत्साहन योजना की प्रगति पर नजर रखी। हाजिर सोना 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 2,021.32 डॉलर प्रति औंस पर रहा जबकि अमेरिकी वायदा 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 2,033.60 डॉलर पर।

अन्य कीमती धातुओं में चांदी 1.2 फीसदी गिरकर 28.81 डॉलर प्रति औंस पर आ गई जबकि प्लैटिनम 0.9 फीसदी गिरकर 978.10 डॉलर प्रति डॉलर हो गया।

अपने प्रतिद्वंद्वियों से दो साल के निचले स्तर पर पहुंचने के बाद आज डॉलर इंडेक्स 0.1 फीसदी चढ़कर एक सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गया। एक मजबूत अमेरिकी डॉलर सोने को अन्य मुद्राओं के धारकों के लिए अधिक महंगा बनाता है।

इस संदर्भ में कोटक सिक्योरिटीज ने एक नोट में कहा कि, ‘अगर अमेरिकी मुद्रा में रिकवरी आती है, तो सोने में और गिरावट आ सकती है।’

वैश्विक बाजारों में, कोविड -19 के बढ़ते मामलों के बीच, इस वर्ष सोने में लगभग 35 फीसदी की वृद्धि हुई है। निवेशक वाशिंगटन और बीजिंग के बिगड़ते संबंधों पर भी नजर रख रहे हैं। अमेरिकी कांग्रेस नेताओं और ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि वे कोरोना वायरस सहायता सौदे पर बातचीत फिर से शुरू करने के लिए तैयार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here