नई दिल्ली: चीनी कंपनियों और उत्पादों के खिलाफ देश में विरोध लगातार जारी है. इस बीच चीनी कंपनियों को अगला झटका सबसे बड़ी ई-कॉमर्स साइट अमेजन से लगने वाला है. चीन के खिलाफ केंद्र सरकार और स्थानीय लोगों के विरोध के बीच अमेजन ने अपने सभी उत्पादों पर कंट्री ऑफ ओरिजिन का जिक्र करने का फैसला किया है. संभावना जताई जा रही है कि इस कदम से भारतीय ग्राहक चीनी उत्पादों की कम खरीददारी करेंगे.

10 अगस्त से लागू हो सकता है नियम

प्राप्त जानकारी के मुताबिक अमेजन ने अपनी साइट पर मौजूद सभी कंपनियों से कहा है कि 10 अगस्त तक अपने उप्तादों के कंट्री ऑफ ओरिजिन की जानकारी साझा करें.

अमेजन से जुड़ी सभी कंपनियों को चेतावनी दी गई है कि अगर बेचे जा रहे प्रोडक्ट में ये अहम जानकारी नहीं मिली तो कंपनी का नाम हटाया जा सकता है.

जानकारों का कहना है कि हाल ही में भारत- चीन सीमा विवाद बढ़ने और उसके बीच घरेलू बाजार में चीनी उत्पाद का बहिष्कार ही इसका कारण है. इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा देश में 59 चीनी ऐप्स को बंद करने के बाद चीनी उत्पादों और कंपनियों के खिलाफ विरोध बढ़ता ही जा रही है.

उल्लेखनीय है कि घरेलू संगठनों ने चीनी उत्पादों का विरोध शुरू कर दिया है. इस बीच कुछ संगठन चीनी उत्पादों के खिलाफ कोर्ट भी जा चुके हैं. हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट में दाखिल याचिका में मांग की गई है कि भारत के सभी ई- कॉमर्स साइटों पर बिकने वाले उत्पादों पर कंट्री ऑफ ओरिजिन का जिक्र होना चाहिए. ताकि खरीददार अपने विवेक से सामान खरीदने का फैसला ले सकें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here