ब्रह्मा कुमारिस प्रमुख दादी जानकी का निधन, पीएम का कहना है कि उन्होंने 'परिश्रम के साथ समाज की सेवा की'



माउंट आबू: ब्रह्मा कुमारियों के आध्यात्मिक प्रमुख दादी जानकी का शुक्रवार सुबह 2 बजे एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 104 साल की थीं।

स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर रहे दादी जानकी ने राजस्थान के माउंट आबू के ग्लोबल अस्पताल में अंतिम सांस ली। लोग शांतिवन में उसे अंतिम सम्मान दे सकते हैं। दोपहर 3:30 बजे अंतिम संस्कार होगा।

Dear friends,
With loving thoughts, we wish to inform you that our beloved Dadi Janki, Spiritual Head of the Brahma Kumaris, passed on from this physical life, at 2am, India time on Friday 27th March. pic.twitter.com/fag6ZyRCub

— Dadi Janki (@DadiJanki) March 26, 2020


उनका जन्म 1916 में हुआ था।

इस बीच, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया: “ब्रह्म कुमारियों के प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी जी ने परिश्रम के साथ समाज की सेवा की। वह दूसरों के जीवन में सकारात्मक अंतर लाने के लिए शीर्ष पर रहीं। महिलाओं को सशक्त बनाने के उनके प्रयास उल्लेखनीय थे। मेरे विचार के साथ हैं। इस दुख की घड़ी में उनके अनगिनत अनुयायी। ओम शांति। “

Rajyogini Dadi Janki Ji, Chief of the Brahma Kumaris, served society with diligence. She toiled to bring a positive difference in the lives of others. Her efforts towards empowering women were noteworthy. My thoughts are with her countless followers in this sad hour. Om Shanti. pic.twitter.com/nCUwyh58f8

— Narendra Modi (@narendramodi) March 27, 2020


“वह इस तरह 1937 से लगी हुई है और 1974 से 40 साल लंदन में भी बिताए हैं। उन्होने सभी संस्कृतियों और व्यवसायों के व्यक्तियों को उद्देश्य की उच्च भावना के अनुसार जीने और बेहतर दुनिया के निर्माण में योगदान देने के लिए प्रेरित किया है। दीप।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here